Network Marketing Kaise Kare【नेटवर्क मार्केटिंग】कैसे करें

Table of Contents

Network Marketing Kaise Kare | नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें | Network Marketing Kaise Kare In Hindi | Network Marketing Tips In Hindi | Network Marketing Tips For Beginners

नेटवर्क मार्केटिंग आज के समय में एक इंडस्ट्री बन गया है, इस फील्ड में भी आप लाइफटाइम करियर बना सकते है, भारत में अभी फैल रहा यह बिजनेस काफी नया है, जिसमें भविष्य की अपार संभावनाएं छुपी हुई है, लेकिन इस बिजनेस में किस तरह खुद को स्थापित किया जाए यह भी हमें जानना जरूरी है।

Hello Friends, स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज हम बात करने जा रहे है, नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें, इसके कुछ खास टिप्स और सुझाव के बारे में जो आपको फील्ड वर्क में काम जरूर आएंगे, उम्मीद करता हूँ आपको यह आर्टिकल पसंद आएगा।

Network Marketing Kaise Kare? –

network marketing kaise kare
Network Marketing Kaise Kare | नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें

किसी भी चीज को शुरू करने से पहले यदि हम उसके बारे में योजना बना लेते है तो 50% लक्ष्य वहीं पूरा कर लेते है।

इसीलिए नेटवर्क मार्केटिंग को शुरू करने से पहले उसके बारे में योजना बनानी जरूरी है, ताकि आपकी सफलता के चांस बढ़ जाएं।

तो चलिए आज कुछ ऐसे ही चीजों के बारे में बात करते है जो आपको एक सफल नेटवर्कर के रूप में स्थापित कर सकता है।

एक लिस्ट बनायें –

नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing Kya Hai) में सफल होने के लिए सबसे पहले और महत्वपूर्ण चीज है तो वह है, अपने जान पहचान से जुड़े लोगों की एक लिस्ट बनाना।

हर व्यक्ति के जीवन में उससे जुड़े हुए कुछ लोग अवश्य होते है, जैसे फैमिली, रिलेशन, दोस्त, आफिस कलीग, बिजनेस फ़्रेंड्स इत्यादि।

अक्सर लोगों को लगता है नेटवर्क मार्केटिंग मैं कर सकता हूँ लेकिन इतने लोगों को मैं कहां से ले आऊंगा, आपके इस प्रश्न का सबसे बेहतर जवाब है, लोगों की लिस्ट बनाइये।

लिस्ट बनाना इसका सबसे पहला स्टेप है, इसलिए बिजनेस शुरू करते समय कम से कम 200 नामों की लिस्ट जरूर होनी चाहिए, यह लिस्ट अपनी नोटबुक में बनाये, मोबाइल या दिमाग में नही होना चाहिए।

नेटवर्क मार्केटिंग में ऐसा देखने को मिलता है कि बड़ी लिस्ट बनाने वालों ने कम समय में सफलता प्राप्त की है, बड़ी लिस्ट बनाने से आपका मनोबल हमेशा ऊंचा रहता है और ऊंचा मनोबल ही आपकी सफलता की गारण्टी है।

इसलिए जितनी ज्यादा लंबी लिस्ट होगी आपके सफल होने के चांस उतने ही बढ़ते ही जायेंगे (इसके और भी कारण है), इसलिए जब आप किसी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी को जॉइन कर रहे है उसी समय से या उससे पहले से ही एक लिस्ट बनाना शुरू कर दें।

कोशिश करें इसे एक डायरी में लिखें और पूरे दिन में जब भी कोई नाम मन में आये उसे तुरंत अपनी डायरी में लिखें, ऐसा करने से एक दो दिन में ही आप देखेंगे कि आपके पास एक लंबी लिस्ट बन जाएगी।

लिस्ट बनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें –

  • नामों की लिस्ट बनाते समय पहले से अंदाज न लगाएं कि अमुक व्यक्ति काम करेगा या नही।
  • स्पॉन्सर या अपलाइन की मदद लें
  • परिवार के लोग, दोस्त, रिश्तेदार जहां पहले रहते थे और अब जहां रहते वहां के लोगों का नाम लिखें
  • नए लोगों से पहचान बनाएं और लिस्ट अपडेट करते रहें
  • आपके साथ नौकरी या व्यवसाय से जुड़े लोगों के नाम लिखे।
  • जिन लोगों के साथ आपका रोज व्यवहार होता है जैसे, डॉक्टर, वकील, बनिया, लॉन्ड्री, दूध वाला, चाय वाला, सोसायटी में रहने वाले लोगों की लिस्ट बनायें।
  • लिस्ट हमेशा अपडेट रखनी चहिये, रोज कम से कम दो लोगों के नाम जुड़ने चाहिये।

2. एक अच्छी टीम बनाएं –

“कहते है कि तेज चलना हो तो अकेले चलिए और दूर चलना हो तो किसी को साथ लेकर चलिए” अगर बात पैसे कमाने की हो तो नेटवर्क मार्केटिंग पर यह लाइन सटीक बैठती है, जहां पर आपकी टीम ही सबकुछ है आपकी टीम में जितने अच्छे आपके साथ देने वाले होंगे उतनी ही अच्छी तरक्की आप करते जाएंगे.

इसलिए यह बेहद जरूरी है कि आपकी टीम मजूबत हो, वे खुद से अपने लिए फैसले लेने में सक्षम हो , यह याद रखिए जितनी बेहतर आपकी टीम होगी आपका लक्ष्य उतना ही आसान हो जाएगा।

एक अच्छी टीम बनाने के लिए आपके पास एक लंबी लिस्ट का होना जरूरी है, क्योंकि जितने ज्यादा लोगों के नाम आपके पास होंगे आप उतन ही ज्यादा लोगों से मिलेंगे।

टीम को साथ लेकर चलें-

आपकी टीम नेटवर्क बिजनेस में सबकुछ है, कहा जाता है कि “आपका नेटवर्क ही आपका नेटवर्थ है” इसलिए समय-समय पर अपने टीम से जरूर मिले यदि फुल टाइम इस जॉब को कर रहे है तो रो या एक-दो दिन के गैप पर लोगों से जरूर मिले और पूछे कि पिछले दिनों में उन्होंने कितने लोगों से मुलाकात की प्लान दिखाया।

अगर वो आपको फोन न भी करें तो आप उन्हें जरूर फोन करें और एक नियत समय पर करें इससे आपका टाइम मैनिज्मन्ट बेहतर रहेगा, अपने टीम के लोगों की परेशानी बोलने में दिक्कत आदि को समझे और उसे दूर करने की कोशिश करें।

हो सके तो जो भी सदस्य अच्छा काम कर रहे हो उन्हें उनके काम के लिए सम्मानित जरूर करें इससे उनका मनोबल ऊंचा रहेगा, काम करने के लिए और प्रेरित होंगे।

नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में यह आर्टिकल भी पढ़ें –

नेटवर्क मार्केटिंग क्या हैClick_Here
हिन्दी नेटवर्क मार्केटिंग बुक्सClick Here
DXN क्या है, पूरी जानकारी Click Here
नेटवर्क मार्केटिंग का भविष्य Click Here

लिस्ट को अपडेट करते रहें-

लिस्ट तैयार करना इस बिजनेस के लिए सफलता की चाभी के समान है, इसलिए अपनी लिस्ट में हमेशा नए लोगों के नाम लिखें और इस टास्क को रोज करने की कोशिश करें, इस बिजनेस में आपकी सफलता का आधार आपकी लिस्ट से ही बनता है।

रोज प्लान दिखायें-

लिस्ट बनाने के बाद आता है प्लान दिखाना, जब हम किसी काम को रोज, लगातार, बार-बार करते है तो उसमें महारथ हासिल हो जाती है।

ध्यान रखिए रोज प्लान दिखाना आपके लिए नए टीम मेम्बर की ज्यादा संभावनाएं बनाता है, इसलिए एक व्यक्ति ही सही लेकिन रोजाना प्लान दिखाने की आदत डालें।

रोज सीखें-

रोज नई चीजें सीखना आपके ज्ञान के स्तर को बढ़ाता है, शिक्षा काभी व्यर्थ नहीं जाती, रोज कुछ सीखना आपको कभी ऐसे मोमेंट पर हीरो बना देगी जब आप महत्वपूर्ण जगहों पर सही और सटीक जवाब दे सकें।

लोगों से मिलने के लिए कुछ सुझाव –

  • अपनी सूची में उन लोगों का नाम लिखने की कोशिश कीजिए, जो समाजिक और आर्थिक स्तर पर आपके समान या आपसे ऊपर हों।
  • यह याद रखें कि इस Business से मिलने वाली हर चीज लोगों को चाहिए।
  • आप जहां भी जाएं लोगों से बातचीत करने का अभ्यास कीजिए।
  • अपने आसपास के लोगों के संभानध में जागरूकता रखिए।
  • ऐसा नजरिया रखिए जिससे यह लगे कि आप केवल दोस्ताना बढ़ाने कि कोशिश कर रहे है।
  • यह अपना लक्ष्य बना लीजिए कि रोज कम से कम एक व्यक्ति से जरूर मिलेंगे।
  • लोग काटने के लिए नहीं दौड़ते, वे आपको नुकसान नहीं पहुंचाएंगे, इसलिए यह डर अपने मन से निकाल दें।
  • जितने ज्यादा लोगों से आपकी मुलाकात होगी यह काम उतना ही आसान होता जाएगा, इसलिए बिल्कुल सहजता से मुलाकात कीजिए।
  • शुरुआती संपर्क में यदि कोई गलती भी हो जाये तो इसमें घबराने की कोई जरूरत नहीं है।
  • जब आपको यह बात समझ जाती है कि आप लोगों को अपना बिजनेस प्लान दिखाकर, वास्तव में उनके फायदे की ही बात कर रहे है, तब लोगों से बात करना आसान हो जाता है।
  • लोगों से मुस्कुराकर हाय-हैलो कीजिए, आपके हावभाव से दिखना चाहिए,जैसे आप कह रहे हो मैं आपको पसंद करता हूँ, आपका दोस्त हूँ, आपका शुभचिंतक हूँ।
  • किसी ऐसे विषय को खोजिए जो आप दोनों के लिए दिलचस्प हो उसी विषय पर चर्चा कीजिए।
  • याद रखिए… लोग केवल अपने विचारों, अपने परिवार इत्यादि के बारे में ही चर्चा करना पसंद करते है इसलिए उनके विषय के बारे में ही चर्चा करना बेहतर होता है।
  • लोगों द्वारा शुरू किये गए विषय पर ही चर्चा कीजिए, यानि विषयांतर करने से बचिए, उनसे प्रश्न पूछिए और उन्हें ही बातचीत करने दीजिए।
  • लोगों के साथ गपशप करना सीखिए, बातचीत बंद करने वाले छोटे जवाबों को अच्छी नजर से नहीं देखा जाता।
  • F.O.R.M. मतलब फेमिली, ऑक्युपेशन, रीक्रीएशन, मनी (पैसे) को अपनी बातचीत का आधार बनाइए।
  • हो सके तो अपना बिजनेस कार्ड अपने पासरखिए ताकि तुरंत सामने वाले व्यक्ति को जरूरत पड़ने पर दिया जा सके।
network marketing kaise kare
Network Marketing Kaise Kare | नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें

MLM के बारे में लोगों को कैसे बताएं –

अगर आपने अपनी डायरी बना ली है और उसमें कम से कम 200 लोगों के नाम, फोन नंबर, जॉब इत्यादि को लिख लिया है तो धीरे-धीरे लोगों से संपर्क करना शुरू करें, लोगों से संपर्क और अपने घर पर बुलाकर इन दो तरीकों से प्लान या कंपनी के प्रोडक्ट के बारे में समझा सकते है-

1- जिज्ञासा जगाकर – इस तरीके के अप्रोच में कंपनी का नाम आता ही नहीं आप अपने अपलाइन से सलाह करके कोई तरीके का इस्तेमाल कर सकते है, यह मेथड तब सही है जब आप किसी को प्रोडक्ट के बारे में बता रहे हो, न कि बिजनेस प्लान के बारे में।

2- डायरेक्ट अप्रोच – डायरेक्ट अप्रोच की सबसे ज्यादा सफलता अपने दोस्तों, रिश्तेदारों से फोन पर या सामने बैठकर समझाने से मिलती है, सबसे ज्यादा सफलता जब आप व्यक्तिगत लोगों से आमने-सामने बैठकर बात करते है तो मिलती है क्योंकि एक-दूसरे की प्रतिक्रियाओं ठीक से संभाल सकते है और सामने वाले के सवालों के जवाब दे सकते है।

बात करते समय आप बिजनेस कर प्रति कमिटेड, कॉन्फिडेंट और उत्साहित है, आपको अपने बिजनेस पर भरोसा है यह सामने वाले व्यक्ति को आप में दिखना चाहिए।

उदाहरण के लिए- हैलो अमन, सुनो यार मुझे इस वक्त तुम्हारी बहुत जरूरत है, एक बहुत बढ़िया बिजनेस दिमाग में आया है, मैंने तो ऐसा मौका अपनी जिंदगी में पाया ही नहीं यार, अभी पिछले हफ्ते ही (कंपनी का नाम) के बारे में पता चला, मुझे नहीं मालूम था कि इससे इतना पैसा कमाया जा सकता है।

यार मै चाहता हूँ कि तुम इस प्रोग्राम को देखो, क्या तुम सोमवार या बुधवार को शाम में मेरे घर आ सकते हो, कुछ बड़े बिजनेस मैं मेरे घर प्रेजेंटेशन के लिए आ रहे है, मै चाहता हूँ कि तुम भी यहाँ रहो, क्या तुम मेरी मदद कर सकते हो?

नए लोगों को कैसे गाइड करें? –

नेटवर्क बिजनेस में जो आदमी शुरू में जॉइन करता है तो उसके अंदर एक बड़ा उत्साह रहता है, उस समय वो सीखने के मूड में रहता है ,क्योंकि उसे बिजनेस के बारे में कोई जानकारी नहीं रहती है।

जॉइनिंग के 48 घंटे के अंदर उसके घर में बैठकर बिजनेस ओपनिंग प्रोग्राम करते समय पांच बेसिक चीजों के बारे में बताकर उसे लिस्ट बनवाने का काम करते हैं तो लंबी लिस्ट बनाना आसान हो जाता है, अपलाइन भी उसकी इसमें मदद कर सकता है।

नामों को याद रखने वाले फार्मूले के द्वारा इस्तेमाल करके जब 100 नामों की लिस्ट तैयार हो जाती है नए डिस्ट्रीब्यूटर को 100 नामों की लिस्ट को देखकर अच्छा लगता है उसे देखकर उसका विश्वास और बढ़ जाता है।

इस लिस्ट को रोजाना अपडेट करने को कहें, जब नेटवर्कर इस लिस्ट पर विचार करता है तो अवचेतन मन उसकी मदद करता है और धीरे-धीरे उस लिस्ट में और नाम जुड़ने लगते है।

नए नेटवर्कर को रोजाना लिखने की आदत से लिस्ट लंबी होती जाती है, जिससे कांटेक्ट और इन्विटेशन करने में आसानी होती है, ज्यादा लोगों से बात करने से ज्यादा प्रैक्टिस होती है और ज्यादा प्रैक्टिस होने से व्यक्ति के अंदर अच्छे निमंत्रण और संपर्क करने की कला पैदा हो जाती है।

अगर नेटवर्कर के जुड़ने के 48 घंटे के अंदर, पांच बेसिक चीजों का क्या महत्व है, बताकर एक लंबी लिस्ट नही बनवाई तो ऐसा पाया गया है कि, बाद में लिस्ट बनाना बहुत मुश्किल हो जाता है।

बाद में लोग चाहते हुए भी लिस्ट नही बना पाते है, बिजनेस में आने के कुछ दिन में ही बगैर सीखे, बिना पूरी जानकारी लिएस बिजनेस के बारे में बात करना शुरू कर देते है और सामने वाले को समझा नही पाते और उनके सवालों का जवाब नही दे पाते है तो उनका खुद का लोगो के प्रति अच्छा अनुभव नही हो पाता है।

और उस समय नया जुड़ा नेटवर्कर खुद निर्णय लेने लगता है, यह काम करेगा यह काम नही करेगा, फिर अपने लीडर के कहने से लिस्ट नही बनाता, उसके दिमाग में यह माइंड सेट बन जाता है कि क्या करेंगे लिस्ट बनाकर क्योंकि हमें उन्हीं लोगों से मिलना है, जो हमसे मिलना चाहते है और उनसे वही बात करनी है जो हमसे कहना चाहते है तो उसमें लिस्ट बनाने का क्या काम है।

क्या करें जब कोई ‘ना’ कहे? –

जब इस बिजनेस को हम दूसरों को दिखाते हैं तो हमारे अवचेतन माइंड में गिनती होती रहती हैं कि हम कितने लोगों को बिजनेस प्लान दिखा चुके हैं और कितने लोगों को बताना बाकी है अगर लिस्ट छोटी होती है तो हमारा विश्वास टूटने लगता है और एक डर पैदा होने लगता है कि कहीं अगले वाले ना कर दिया तो।

बड़ी लिस्ट न होने के कारण बिजनेस करने के लिए हम कुछ लोगों पर निर्भर हो जाते हैं और उनकी बोली हुई ना बिजनेस में ग्रोथ होने से रोकती है, यह डर हमारे उत्साह को कम करता है और बॉडी लैंग्वेज को बिगाड़ देता है और हमें लोगों के सामने गिड़गिड़ाने की आदत सी पड़ जाती है जो हमें सफलता से काफी दूर ले जाती है।

एक बड़ी लिस्ट हमेशा आपका मनोबल ऊंचा करने के काम आती है, ताकि जिसमें कुछ लोग मना भी करें तो इतना फर्क नहीं पड़ता यदि कोई व्यक्ति ‘NO’ कहता है तो उसका मतलब है ‘NEXT ONE’ आप लिस्ट में से अगले व्यक्ति को अप्रोच करें, उसे बिजनेस के बारे में बताएं।

Network Marketing Kaise Kare | नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें | Network Marketing Kaise Kare In Hindi | Network Marketing Tips In Hindi | Network Marketing Tips For Beginners

दुनिया के सफल लोगों की रिसर्च है कि जब-जब आप उन लोगों से मिलते है, जो आपसे मिलना चाहते है और उनसे वो बात करते है, जो वो करना चाहते है, तब-तब आपको वो नही मिलता जो जिंदगी में चाहिये।

क्यों सभी लोग MLM से नही जुड़ते –

सबसे पहले हमेशा मन में ये बात रखनी है कि नेटवर्कर को एक सिस्टम के साथ चलना चाहिए, केवल 15% लोग जो पूरे सिस्टम के अनुसार चलते है, 100% क्षमता से स्मार्ट काम करके कम समय में काफी ज्यादा पैसे कमाते है, वे आर्थिक आजादी पाते है, केवल नामों की लंबी लिस्ट बनाने एक कारण।

बिजनेस प्लान दिखाना फ़िल्टर प्रोसेस का काम है, बड़ी लिस्ट होने के कारण ज्यादा लोग फ़िल्टर प्रोसेस से होकर गुजरेंगे तो सही में काम करने वाले आपके साथ जुड़ने वाले 20% एक्टिव और महत्वाकांक्षी लोग मिल जाते है, जिसमें समर्पित होने की भावना और हमेशा अपने में परिवर्तन करने के लिये हमेशा तैयार रहते है।

उन 20% एक्टिव लोगों पर हम अपनी 80% ताकत लगाकर, 80/20 फ़ॉर्मूला का प्रयोग करके एक बड़ा नेटवर्क बिजनेस खड़ा करने में सफल हो जाते है।

जिस तरह से पटाखे की लड़ी जलाते समय उसमें बहुत से पटाखे ऐसे भी होते है जो नही फूटते लेकिन जोर से बजने वाले बाकी के पटाखों के कारण हमारा उत्साह कम नही होता है, कम बजने वाले पटाखों को हम नजरअंदाज कर देते है।

उसी तरह बड़ी लिस्ट होने के कारण हमारा उत्साह कम नही होता, जो लोग मना करते है उसपर ध्यान नही जाता, हां कहने वालों के साथ काम करते चले जाते है, हमें पता भी नही चलता है और सफलता मिलती जाती है।

लोग MLM में फेल क्यों होते है? –

ऐसे कई कारण है जिनकी वजह से लोग यहाँ पर आने के बाद फेल हो जाते है, जाने-अनजाने वे ऐसी गलतियाँ करते है जो उन्हें नहीं करनी चाहिए, हम कुछ ऐसी ही गलतियों के बारे में बात करेंगे जो कि एक अच्छे नेटवर्कर को नहीं करनी चाहिए-

बिजनेस प्लान को ठीक से न समझना –

यदि आप काम करने को लेकर उत्सुक है तो सबसे पहले प्लान को देखें समझे, किसी के सामने प्रेजेंटेशन देने से पहले घर पर सदस्यों के सामने इसकी प्रैक्टिस जरूर करें, जब भी आप अपने प्लान को किसी के सामने बताते है तो लोगों के अलग-अलग तरह के प्रश्न होते है, ऐसे प्रश्न जो सबसे अधिक पूछे जाते है उन्हें अपने अपलाइन से बैठकर पहले समझ लें और जो प्रश्न हर व्यक्ति के हिसाब से अलग होते है, उनके बारे में बाद में डिस्कस करें और इन सारी चीजों को एक नोटबुक में जरूर लिखें।

अपने लीडर के अनुसार नहीं चलना –

शुरुआत में अपने लीडर के कहे अनुसार चलें क्योंकि उनको पिछले कुछ समय का अनुभव रहा है, अपने अपलाइन की बातों को मानते हुए शुरुआत में प्लान दिखाने की कोशिश करें, अगर इसमें अपने से कुछ बदलाव करने जा रहे है तो इसे अपलाइन से जरूर बताएं यदि वे इसको करने के लिए कहते है, तभी उसे लोगों के सामने ले जायें अन्यथा नहीं।

एक कंपनी से दूसरी कंपनी में जाना –

बार-बार कंपनी न बदलें यह आपके अथॉरिटी को कम करता है, लोग आपकी बातों को सिरियस नहीं लेते है, एक बार किसी कंपनी का प्लान लेकर अपने दोस्त के पास जाते है और दूसरी बार किसी दूसरे कंपनी का प्लान दिखाते है तो ऐसा भूल कर भी न करें, किसी एक कंपनी के साथ जाएं और उसमें लगे रहे, यदि कंपनी अच्छी नहीं और बदलनी है तो शुरुआत में ही ये सब कर लें।

अगर दो अलग-अलग कंपनियों के नेटवर्कर के बीच फंसे हो कि कौन सी कंपनी को ज्वाइन करना है तो हमेशा उस कंपनी के साथ जाएं जो आपको सही लग रही है जहां पर आप खुश रहकर काम कर सकें।

खुद के अंदर सीखने की इच्छा न होना –

दुनिया का चाहे कोई भी काम हो जहां पर व्यक्ति के अंदर सीखने की इच्छा नहीं होती वह आगे नहीं बढ़ पाता, इस बिजनेस में सफल होने के लिए आपके अंदर सीखने की प्रबल इच्छा होना जरूरी है।

प्लान न दिखाना –

रोज कुछ लोगों से अपने बिजनेस प्लान को अवश्य दिखायें, इसे अपने डेली रूटीन में शामिल करें, याद रखें जितना ज्यादा लोगों से मिलते है टीम में लोगों के जुडने के चांस बढ़ते जाते है।

अपने ग्रुप को नेगेटिविटी से न बचाना –

कितना भी बड़ा ताकतवर नेटवर्क नेटवर्क ग्रुप हो उसे एक नेगेटिविटी से काफी नुकसान पहुँच सकता है, क्योंकि नेगेटिव चीज बहुत जल्दी पहुँचती है, ग्रुप में जहां-जहां से गुजरती है उसकी ताकत मल्टप्लाइ हो जाती है।

क्योंकि इस बिजनेस में हर चीज मल्टप्लाइ हो जाती है चाहे वह अच्छाई हो या बुराई, इसलिए अपने ग्रुप को नेगेटिव सोच रखने वाले लोगों से बचाते रहना है, ऐसे लोग खुद तो खराब होते ही है ये जहां जाते है वहाँ बुराई फैलाते है।

नए नेटवर्कर के लिए संदेश –

इस बिजनेस में आप सफल हो या ना हो लेकिन अगर आपकी ट्रेनिंग अच्छी होती है, कंपनी में लोग अच्छे है, कंपनी का मोटिव, फिलोसोफी… कैरेक्टर पर आधारित है, ईमानदारी, कैरेक्टर, सिद्धांत, आचार-विचार और टीम वर्क पर ध्यान दिया जा रहा है तो अगर आप इस बिजनेस में फेल भी हो जाते है तो भी नेटवर्क मार्केटिंग को ज्वाइन करना चाहिए।

क्योंकि जहां पर लोग अच्छे होंगे, उसके बीच टीम वर्क हो और उनकी फ़िलोसोफी अच्छी हो ऐसे लोगों के बीच आप मौजूद रहकर सफल हो जायेंगे और अगर ऐसा ना भी हो तो ऐसे माहौल में रहने से आपके अंदर जो बदलाव आएंगे कि आपका ग्रोथ अपने आप हो जाएगा।

यह दुनिया की एकमात्र ऐसी फील्ड है जहां लोग बिना तनख्वाह के आते है और जुड़ जाते है अपने काम को करने का इतना ज्यादा Motivation रखते है, जो कहीं भी, किसी अन्य जॉब/बिजनेस में नहीं देखने को मिलता है।

लोग क्यों जुड़ना नहीं चाहते? –

यदि आप एक नेटवर्कर है तो अक्सर आपने इस बिजनेस के प्रति लोगों के मन में ये जरूर देखा होगा कि लोग कुछ भी आगे सुनने के लिए मना कर देते है यदि वे केवल ये समझ ले कि सामने वाला बंदा नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में बात करने जा रहा है।

इसके बारे में लोगों के मन में तमाम तरह की चीजें फैली हुई है, जैसे इसमें लोगों को फँसाया जाता है, इसमें लोगों की चेन बनानी पड़ती है, लोगों को लगता है कि इसमें उनका केवल नुकसान है, कंपनी भाग जाती है।

तो वे ऐसा सोचकर गलत नहीं सोचते क्योंकि हर कोई अपने पैसे को सुरक्षित रखना चाहता है और संभावित खतरे से हर कोई दूर जाना चाहता है, भले ही वह उसके फायदे के लिए ही क्यों न हो।

यदि व्यक्ति कोई ऐसा है जिसे आपका सीधा संबंध है जैसे आपका खास दोस्त, घर परिवार के सदस्य, रिश्तेदार आदि है तो उन्हें इसके बारे में समय देकर ध्यान से इसके बारे समझायें, इस बात की अधिक संभावना है कि वे आपकी बात को मान लेंगे।

और यदि कोई अजनबी है जिससे आप अपने बिजनेस प्लान को बताना चाह रहे है और वह आपको अपने पिछले कंपनी के अनुभव के बारे में बताना चाह रहा है जो कि सही नहीं था तो आप यह समझने कि कोशिश करें कि सामने वाला आपकी बातों में intrested है या नहीं, यदि ऐसा नहीं है उसकी इच्छा नहीं है तो ऐसे लोगों को जाने दें आप अन्य लोगों से बातचीत शुरू करें।

Network Marketing Kaise Kare | नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें | Network Marketing Kaise Kare In Hindi | Network Marketing Tips In Hindi | Network Marketing Tips For Beginners | Network Marketing Kaise Kare | नेटवर्क मार्केटिंग कैसे करें | Network Marketing Kaise Kare In Hindi | Network Marketing Tips In Hindi | Network Marketing Tips For Beginners

Summary –

उम्मीद करता हूँ, ये टिप्स आपकी नेटवर्क मार्केटिंग की यात्रा में सहायक साबित होंगी, इस बिजनेस में मुश्किलों से सामना करने में मदद करेंगी।

इससे आपको कुछ सीखने को अवश्य मिला होगा, आपको इस आर्टिकल से क्या फायदा मिला हमें जरूर बताएं, साथ ही यदि आपके पास कोई सवाल या सुझाव हो तो उसे भी जरूर लिखें, नीचे कमेन्ट बॉक्स में, धन्यवाद 🙂

हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करें –

Leave a Comment